Explore

Search

July 16, 2024 2:10 pm

Our Social Media:

IAS Coaching
लेटेस्ट न्यूज़

जिलाधिकारी सौरभ जोरवाल ने आसन्न लोकसभा चुनाव की तैयारियों की समीक्षा की

मोतिहारी।

जिलाधिकारी सौरभ जोरवाल ने आसन्न लोकसभा चुनाव की तैयारियों की समीक्षा की। जिला निर्वाचन पदाधिकारी सह जिलाधिकारी सौरव जोरवाल ने कहा है कि स्वतंत्र, निष्पक्ष, भयमुक्त, पारदर्शी एवं सहभागितापूर्ण वातावरण में लोकसभा आम निर्वाचन, 2024 सम्पन्न कराने के लिए जिला प्रशासन प्रतिबद्ध है। इसके लिए सभी कोषांग 24 घंटे क्रियाशील हैं। जिलाधिकारी के द्वारा समाहरणालय स्थित डॉ राधाकृष्णन सभागर में लोकसभा चुनाव की तैयारियों की समीक्षा की गई। सभी निर्वाचक निबंधन पदाधिकारियों, कोषांगों के वरीय पदाधिकारियों एवं नोडल पदाधिकारियों को संबोधित करते हुए जिलाधिकारी ने कहा कि भारत निर्वाचन आयोग द्वारा प्रेस नोट जारी होते ही जिला में आदर्श आचार संहिता प्रभावी हो गयी है। इसका अक्षरशः अनुपालन सुनिश्चित करने के लिए सम्पूर्ण तंत्र सजग एवं तत्पर रहे। सभी पदाधिकारी भारत निर्वाचन आयोग के निदेशों के अनुरूप आदर्श आचार संहिता का सख्ती से अनुपालन कराएंगे तथा इसकी अवहेलना या उल्लंघन करने वालों के विरूद्ध विधि-सम्मत सख्त कार्रवाई करेंगे। डीएम ने कहा कि आयोग के निदेशों के अनुसार ईवीएम मैनेजमेंट यथा भंडारण, सुरक्षा, सीलिंग, मतदान-मतगणना में ईवीएम का प्रबंधन आदि अत्यंत महत्वपूर्ण है। इसमें किसी भी प्रकार की कोताही बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

डीएम ने अधिकारियों को प्रलोभन-मुक्त मतदान के लिए सघन अभियान चलाने का निदेश दिया। उन्होंने कहा कि निर्वाचन व्यय के अनुश्रवण के लिए टीम 24 घंटे सक्रिय रहेगी। इसके लिए कंट्रोल रूम नंबर भी जारी किए गए हैं। चुनाव के दरम्यान एसएसटी एवं फ्लाईंग स्क्वायड लगातार क्रियाशील रहेगा। सेक्टर दण्डाधिकारी, उत्पाद विभाग की टीम, वीडियो व्यूइंग टीम भी सतत क्रियाशील रहेगा। उन्होंने कहा कि असामाजिक तत्वों द्वारा निर्वाचकों को डराने, धमकाने, प्रभावित करने और प्रलोभन देने के सभी प्रयासों को उड़न दस्ता तथा स्थैतिक निगरानी दल द्वारा विफल किया जाएगा। जिलाधिकारी ने कहा कि निर्वाचकों को प्रभावित करने के लिए नकदी या घूस की कोई भी वस्तु का वितरण या बाहुबल का इस्तेमाल अपराध है। असामाजिक तत्वों के विरूद्ध सख्त-से-सख्त कार्रवाई की जाएगी। जिलाधिकारी ने निर्वाचकों से भी बिना किसी भय या प्रलोभन के निर्वाचन प्रक्रिया में सक्रियता से भाग लेने की अपील की है।

जिलाधिकारी ने कार्मिक कोषांग, ईवीएम एवं वीवीपैट कोषांग, वाहन कोषांग, प्रशिक्षण कोषांग, सामग्री कोषांग, आदर्श आचार संहिता कोषांग, व्यय लेखा अनुश्रवण कोषांग, प्रेक्षक एवं प्रोटोकोल कोषांग, विधि-व्यवस्था, मीडिया एवं एमसीएमसी कोषांग, स्वीप एवं पीडब्ल्यूडी कोषांग, जिला संचार योजना, डीईएमपी कोषांग, जिला सम्पर्क केन्द्र, हेल्प लाईन, नियंत्रण कक्ष, शिकायत एवं समाधान अनुश्रवण कोषांग, पोस्टल बैलेट पेपर कोषांग, वज्रगृह एवं मतगणना कोषांग, सीपीएफ कोषांग, कार्मिक कल्याण कोषांग तथा जिला निर्वाचन कोषांग के कार्यों की समीक्षा की तथा अद्यतन प्रगति का जायजा लिया। उन्होंने कहा कि लोकसभा निर्वाचन के सुचारू रूप से संचालन हेतु सभी कोषांगों के लिए वरीय नोडल पदाधिकारी एवं नोडल पदाधिकारी निर्धारित दायित्वों का भली-भाँति निर्वहन करें। पदाधिकारियों को अन्तर्कोषांगीय समन्वय स्थापित कर चुनाव को सफलतापूर्वक संपन्न कराने का निदेश दिया गया।

Khabare Abtak
Author: Khabare Abtak

Leave a Comment

लाइव टीवी
विज्ञापन
लाइव क्रिकेट स्कोर
पंचांग
rashifal code
सोना चांदी की कीमत
Infoverse Academy