Explore

Search

July 16, 2024 2:29 pm

Our Social Media:

IAS Coaching
लेटेस्ट न्यूज़

प्रमंडलीय आयुक्त के द्वारा पूर्वी चम्पारण एवं पश्चिमी चम्पारण जिला में लोकसभा निर्वाचन की तैयारियों की समीक्षा की गयी

मोतिहारी।

आयुक्त, तिरहुत प्रमण्डल गोपाल मीणा एवं पुलिस उप महानिरीक्षक,बेतिया प्रक्षेत्र, जयंत कांत के द्वारा पूर्वी चम्पारण एवं पश्चिमी चम्पारण के जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक तथा पुलिस अधीक्षक बगहा के साथ समाहरणालय मोतिहारी स्थित डॉ० राजेन्द्र प्रसाद सभा भवन में लोकसभा चुनाव की तैयारियों की समीक्षा की गयी। समीक्षा के दौरान दोनों जिलों के विधानसभाओं के सहायक निर्वाची पदाधिकारी सहित कोषांगों के नोडल पदाधिकारी भी उपस्थित थे। समीक्षा बैठक में उपस्थित पदाधिकारियों को सम्बोधित करते हुए आयुक्त ने कहा कि पदाधिकारी आपसी समन्वय के साथ कार्य करें। सभी कार्यों को खुद से करें और उस पर नजर बनाये रखें। अधीनस्य कर्मियों पर निर्भरता कम रखनी होगी। निर्वाचन के सभी कार्य महत्वपूर्ण होते हैं और निर्धारित समय पर पूर्ण करने होते हैं। पदाधिकारी और कर्मी आदर्श आचार संहिता का पूर्ण अनुपालन करें। आयुक्त ने कहा कि वैसे किसी भी पार्टी या उत्सव में नही जाएँ जहाँ राजनैतिक लोगों का आगमन हो। अपने को बिलकुल निष्पक्ष रखें।

समीक्षा के दौरान आयुक्त के द्वारा एक-एक कर सभी सहायक निर्वाची पदाधिकारियों से निर्वाचन कार्यों की जानकारी प्राप्त की गयी। आयुक्त के द्वारा सी-विजिल ऐप, खराब ईभीएम का रिप्लेसमेन्ट, पोस्टल बैलेट से मतदान, सेवा वोटर्स, दिव्यांगजन, 85 वर्ष से आयु के मतदाता को देय सुविधा, मतगणना के दौरान वीवीपैट का रोल संबंधी कई प्रश्न किये गये जिसका पदाधिकारियों ने बहुत ही सहज उतर दिया, जिसकी आयुक्त ने प्रशंसा की।

जिला निर्वाचन पदाधिकारी-सह-जिलाधिकारी सौरभ जोरवाल के द्वारा पावर प्वाइंट प्रेजेन्टेशन के माध्यम से जिला प्रशासन की तैयारियों को बताया गया। जिलाधिकारी ने कहा कि पूर्वी चम्पारण जिला में कुल 12 विधान सभा क्षेत्र हैं जिसके लिए विधान सभा वार कुल 12 डिस्पैच सेन्टर एवं बज्र गृह बनाये जा रहे हैं, जो सात लोकेशन पर अलग-अलग विल्डिंग में स्थित हैं। इससे मतदान कर्मियों, जिला पुलिसबल, पारामिलिट्री फोर्स को मतदान केन्द्र तक भेजने में काफी सहुलियत रहेगी। मतदान की तिथि से तीन-चार दिन पहले से की जाने वाली सभी कार्यों एवं तैयारियों को विस्तार से बताया गया।निर्वाचन कार्य में वाहन की आवश्यकता और जिला में वाहन की उपलब्धता बतायी गयी। जिलाधिकारी ने कहा कि जिला में पर्याप्त संख्या में वाहन उपलब्ध है।

मतदान कर्मियों के प्रशिक्षण के विषय में जिलाधिकारी ने कहा कि 35 हजार से अधिक मतदान कर्मियों को पहले चरण का प्रशिक्षण दे दिया गया है। गुणवता पूर्ण प्रशिक्षण दिलाने के लिए वरीय पदाधिकारियों के द्वारा प्रशिक्षण केन्द्र का लगातार भ्रमण कर प्रशिक्षण का जायजा लिया गया है। जिलाधिकारी ने बताया कि जिला में कुल 3498 मतदान केन्द्र बनाये गये हैं जो 1885 भवन में स्थित हैं। इसमें 92 भवन ऐसे है जहाँ चार या चार से अधिक मतदान केन्द्र, 200 भवनों में तीन-तीन मतदान केन्द्र, 926 भवन में दो-दो मतदान केन्द्र तथा 667 भवन में एक मतदान केन्द्र बनाये गये हैं।

जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक पश्चिमी चम्पारण के द्वारा भी वहाँ की गयी तैयारियों की जानकारी आयुक्त महोदय को दी गयी। आयुक्त के द्वारा लोक सभा चुनाव को लेकर जिला प्रशासन के कार्यों और तैयारियों की प्रशंसा की गयी। समीक्षा बैठक के प्रारंभ में जिलधिकारी पूर्वी चम्पारण के द्वारा सभी पदाधिकारीगण का स्वागत किया गया जबकि अपर समाहर्ता पूर्वी चम्पारण के द्वारा सभी का धन्यवाद किया गया। बैठक में उप विकास आयुक्त, अपर समाहर्ता, नगर आयुक्त, सभी अनुमण्डल पदाधिकारी, डीसीएलआर सहित जिला स्तरीय पदाधिकारी उपस्थित थे।

Khabare Abtak
Author: Khabare Abtak

Leave a Comment

लाइव टीवी
विज्ञापन
लाइव क्रिकेट स्कोर
पंचांग
rashifal code
सोना चांदी की कीमत
Infoverse Academy