Explore

Search

July 16, 2024 2:32 pm

Our Social Media:

IAS Coaching
लेटेस्ट न्यूज़

बाल हृदय योजना से ह्रदय में छेद से पीड़ित अनुष्का के चेहरे पर आयी मुस्कान

बाल हृदय योजना से ह्रदय में छेद से पीड़ित अनुष्का के चेहरे पर आयी मुस्कान, अहमदाबाद में हुआ दिल के छेद का सफल व नि:शुल्क ऑपरेशन

मोतिहारी सदर प्रखंड के छोटा बरियारपुर, वार्ड नंबर 40 निवासी 12 वर्षीया अनुष्का कुमारी अब बेहद खुश है। मुख्यमंत्री बाल हृदय योजना के तहत उसके ह्रदय के छेद का निःशुल्क ऑपरेशन सत्य साईं हॉस्पिटल, अहमदाबाद में सफलतापूर्वक हो चुका है। यह योजना अनुष्का के साथ हीं उसके परिवार के लिए भी वरदान साबित हुई है। अनुष्का की माँ उषा देवी ने बताया कि उसको बचपन से ही सांस फूलने की शिकायत थी। एक बार उसे बचपन में निमोनिया होने पर प्राइवेट चिकित्सक से दिखाया तो उन्होंने कुछ जाँच करवाइ। इसमें अनुष्का के दिल में छेद होने की जानकारी मिली। डॉक्टर ने बाहर दिखाने की सलाह दी। तभी अनुष्का के सरकारी विद्यालय में आरबीएसके चिकित्सकों ने बच्चों की जाँच को मेडिकल कैंप लगाया जहाँ आरबीएसके सदर चिकित्सक डॉ खालिद अख्तर ने अनुष्का की जाँच की। उन्होंने उसे डीआईसी कार्यालय सदर अस्पताल में रेफर किया। यहाँ आने पर अनुष्का के माता पिता आरबीएसके डीसी डॉ शशि से मिले। आवश्यक कागजातों की कार्रवाई पूरी कर उन्हें आईजीआईसी पटना भेजा गया। वहाँ विशेषज्ञ चिकित्सकों ने ह्रदय में छेद होने को पकड़ा। उनको अहमदाबाद सर्जरी के लिए रेफर किया गया। 10 जून को अनुष्का को हृदय रोग से पीड़ित बच्चों के साथ एम्बुलेंस से पटना भेजा गया उसके बाद प्लेन से श्री सत्य साईं हॉस्पिटल अहमदाबाद गईं जहाँ 19 जून को ह्रदय के छेद का सफल ऑपरेशन हुआ। ऑपरेशन के बाद अब अनुष्का काफ़ी ख़ुश है कि बिना डरे वह अब सहेलियों के साथ खेल और दौड़ सकेगी।

अनुष्का के इलाज में लाखों रूपये खर्च होते लेकिन बिहार सरकार की योजना ने निःशुल्क इलाज करवाया। यह इस परिवार के लिए वरदान साबित हुई है। इलाज के बाद अनुष्का पढ़ाई के साथ अपना दैनिक कार्य भी बखूबी कर रही है। यह देखकर सभी लोग काफ़ी ख़ुश है। माँ उषा देवी ने बताया कि मेरी बेटी को सरकार से बड़ी सहायता मिली है। वर्ना हमलोगों से अनुष्का का इलाज नहीं हो पाता। आरबीएसके डीसी डॉ शशि ने बताया कि बच्ची के इलाज के साथ ऑपरेशन में होने वाले सारे खर्च के अलावा हवाई जहाज का टिकट, अहमदाबाद में खाने से लेकर रहने तक का सारा इंतजाम सरकार द्वारा उपलब्ध कराया गया। उन्होंने बताया कि राष्ट्रीय बाल स्वस्थ्य कार्यक्रम के तहत सूबे में 43 तरह की बीमारियों का इलाज नि:शुल्क होता है।

Khabare Abtak
Author: Khabare Abtak

Leave a Comment

लाइव टीवी
विज्ञापन
लाइव क्रिकेट स्कोर
पंचांग
rashifal code
सोना चांदी की कीमत
Infoverse Academy