Explore

Search

July 15, 2024 2:52 pm

Our Social Media:

IAS Coaching
लेटेस्ट न्यूज़

सुगौली में पीपीआर टिकाकरण का हुआ आयोजन

सुगौली में पीपीआर टिकाकरण का हुआ आयोजन, बकाया मानदेय भुगतान नही होने के कारण आधा दर्जन टिकाकर्मीयों ने बनाई दूरी

मोतिहारी।

सुगौली प्रखंड पशु चिकित्सालय में भ्रमणशील पशु चिकित्सा पदाधिकारी रविशंकर देव वर्मन की अध्यक्षता में पीपीआर टीकाकरण का आयोजन किया गया। टिकाकरण कार्य को सफल बनाने में लगे करमवा रघुनाथपुर के प्रभारी पशु चिकित्सक डॉ महेन्द्र पासवान ने बताया कि सरकार के निर्देश पर सभी पंचायतों में भेड़ व बकरियों को निशुल्क पीपीआर का टिका लगना हैं। उन्होंने भेड़ व बकरियों में होने वाले पीपीआर संक्रमण के बारे में बताया कि इस बीमारी का मुख्य लक्षण भेड़ व बकरियों को बुखार होना, मुँह व नाक में छाले पड़ना हैं। उन्होंने कहा कि इस बीमारी से ग्रसित भेड़ व बकरी का ससमय ईलाज नही कराने से यह मृत्यु का शिकार हो सकती है। भेड़ व बकरियों को पड़ने वाले टीकाकरण डोज के संबंध में उन्होंने बताया कि प्रति भेड़ व बकरियों को एक एमएल के हिसाब से टीकोऔषधि लगाना है। उन्होंने बताया कि बीमार भेड़ व बकरी को टिका लगाते समय सावधानी बरतनी हैं। इस टिकाकरण कार्यक्रम की शुरुआत पशु टिकाकर्मी नवनीत कुमार एवं मनोहर पंडित ने बकरियों को टिका लगाकर किया।

वही पूर्व समय से लंबित पीपीआर टीकाकरण का बकाया भुगतान नही होने के कारण पशु टिकाकर्मी सह स्वयंसेवक अवधेश कुमार गुप्ता, प्रवीण कुमार, मो अमजद हुसैन, मो इकबाल, मो अमीर हुसैन, कुणाल कुमार, रोहित रंजन कुमार सहित आधा दर्जन से ज्यादा पशु टिकाकर्मीयो ने बर्तमान समय मे हो रहे पीपीआर टिकाकरण से दूरी बना लिए।

टिकाकर्मी अवधेश कुमार गुप्ता ने कहा कि सरकार हमलोग से गर्मी, बरसात, बाढ़ जैसे विपरीत समय मे भी टिकाकरण कार्य करा लेती है। परन्तु पारिश्रमिक भुगतान के लिए दो साल, चार साल एवं उससे ज्यादा समय तक हमलोग को इंतजार करना पड़ता है। टिकाकर्मी गुप्ता ने कहा कि 2013 से 2024 के बीच सम्प्पन हुए पशुगणना कार्य, टैगिंग कार्य, टिकाकरण का कार्य कर चुके हैं, उसमें अधिकतर कार्यों का पारिश्रमिक का भुगतान विभाग द्वारा अभी तक नही किया गया है। श्री गुप्ता ने बताया कि हमने बकाया भुगतान के लिए जिला पशुपालन अधिकारी, क्षेत्रीय निदेशक मुजफ्फरपुर, निदेशक पशुपालन पटना, सचिव पशुपालन पटना को अनेकों पत्र डाक एवं ईमेल के माध्यम से भेजे परन्तु कोई सुनवाई नही हुई। टिकाकर्मी गुप्ता ने कहा कि बकाया भुगतान नही होने के कारण हममे से कुछ टिकाकर्मी, पीपीआर टिकाकरण कार्य नही कर रहे हैं।

Khabare Abtak
Author: Khabare Abtak

Leave a Comment

लाइव टीवी
विज्ञापन
लाइव क्रिकेट स्कोर
पंचांग
rashifal code
सोना चांदी की कीमत
Infoverse Academy